Breaking News

आवश्यकता है “बेखौफ खबर” हिन्दी वेब न्यूज़ चैनल को रिपोटर्स और विज्ञापन प्रतिनिधियों की इच्छुक व्यक्ति जुड़ने के लिए सम्पर्क करे –Email : [email protected] , [email protected] whatsapp : 9451304748 * निःशुल्क ज्वाइनिंग शुरू * १- आपको मिलेगा खबरों को तुरंत लाइव करने के लिए user id /password * २- आपकी बेस्ट रिपोर्ट पर मिलेगी प्रोत्साहन धनराशि * ३- आपकी रिपोर्ट पर दर्शक हिट्स के अनुसार भी मिलेगी प्रोत्साहन धनराशि * ४- आपकी रिपोर्ट पर होगा आपका फोटो और नाम *५- विज्ञापन पर मिलेगा 50 प्रतिशत प्रोत्साहन धनराशि *जल्द ही आपकी टेलीविजन स्क्रीन पर होंगी हमारी टीम की “स्पेशल रिपोर्ट”

Saturday, June 15, 2024 6:58:02 AM

वीडियो देखें

विद्युत आपूर्ति में लापरवाही बरतने मे प्रथम दृष्टया दोषी पाये जानें पर अवर अभियन्ता, उपखंड अधिकारी एवं अधिशासी अभियन्ता, को आरोप-पत्र निर्गत।

विद्युत आपूर्ति में लापरवाही बरतने मे प्रथम दृष्टया दोषी पाये जानें पर अवर अभियन्ता, उपखंड अधिकारी एवं अधिशासी अभियन्ता, को आरोप-पत्र निर्गत।

रिपोर्ट : दीपक कुमार त्यागी / स्वतंत्र पत्रकार

मेरठ। पश्चिमांचल विधुत वितरण निगम लिमिटेड की प्रबन्ध निदेशक ईशा दुहन (IAS) द्वारा उपभोक्ताओं को निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराने के सख्त निर्देश दिये गये हैं। श्री सांई हैरीटेज छपरौल दादंरी अन्तर्गत विद्युत वितरण खण्ड-चतुर्थ नोएडा में विद्युत आपूर्ति में लापरवाही बरतने मे प्रथम दृष्टया दोषी पाये जाने पर राजकुमार अवर अभियन्ता, जयहिन्द उपखंड अधिकारी एवं अवनीश कुमार अधिशासी अभियन्ता, विद्युत वितरण खण्ड-चतुर्थ, नोएडा को आरोप-पत्र निर्गत किये गये हैं। आज प्रबन्ध निदेशक की अध्यक्षता में डिस्काम मुख्यालय ऊर्जा भवन मेरठ, मे वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित हुई बैठक में यह निर्देश दिये गये हैं। बैठक मे अधीक्षण अभियन्ता, अधिशासी अभियन्ता एवं उपखण्ड अधिकारी स्तर के, अधिकारियों ने वर्चुअल रूप से प्रतिभाग किया।

प्रबन्ध निदेशक ने भीषण गर्मी मे उपभोक्ताओं को निर्बाध रूप से बिजली की आपूर्ति करने के लिए कारगर कदम उठाने के निर्देश दिये हैं। उन्होनें कहा है कि पीक आवर्स में निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए प्रभावी प्रबन्धन सुनिश्चित किया जाये, विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युत कटौती की निगरानी की जाये। भीषण गर्मी को देखते हुये प्लान्ड शट-डाउन पर रोक लगा दी गयी है, अपरिहार्य स्थिति में ही शट डाउन दिया जाऐगा। अनुरक्षण के अभाव में ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त होन पर सम्बंधित के विरूद्ध कडी कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। उन्होनें कहा कि ट्रांसफार्मर को क्षतिग्रस्त होने से बचाने के लिए प्रतिदिन जॉच व अनुरक्षण का कार्य सुनिश्चित कराया जाये। प्रबन्ध निदेशक ने निर्देश दिये कि स्टोर व वर्कशाप के बीच समन्वय स्थापित किया जाना आवश्यक है। अधीक्षण अभियन्ता विद्युत कार्यशाला मंडल पंकज अग्रवाल ने बताया कि 7092 ट्रान्सफार्मर उपलब्ध हैं जिनका उपयोग ट्रान्सफार्मर क्षतिग्रस्त होने पर तुरन्त किया जा सकेगा।

वीडियों कान्फ्रेसिंग मे प्रबन्ध निदेशक ने निर्देश दिये कि बिजली की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए प्रभावी कदम उठाया जाना आवश्यक हैं। उन्होनें कहा कि ओवर लोड ट्रान्सफार्मर की क्षमता बढाना और जहाँ बार-बार ट्रान्सफार्मर क्षतिग्रस्त हो रहे हैं वहाँ उच्च क्षमता के ट्रान्सफार्मर लगाये जाना आवश्यक है। उन्होनें निर्देश दिये कि ओवर लोडिग की समस्या के समाधान के लिए जहाँ कही भी क्षमता वृद्धि का कार्य होना है उन्हें बिजनेस प्लान में शीघ्र शमिल किया जाये। उन्होनें कहा कि आगामी दिवसों में मौसम विभाग द्वारा हीट-वेव की चेतावनी को दृष्टीगत रखते हुये विद्युत आपूर्ति में कोताही न बरती जाये। प्रबन्ध निदेशक ने कहा कि जनपद स्तर पर स्थापित कन्ट्रोलरूम की नियमित मॉनेटिरिंग सुनिश्चित की जाये। अधिकारी पीक आवर्स में अपने क्षेत्रों में ‘भ्रमणशील रहें फूट पैट्रोलिंग करें और बिजलीघरों का औचक निरीक्षण करें। उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए जनपदवार कन्ट्रोलरूम नम्बर, हैल्प लाईन नम्बर का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये और इन नम्बरों पर प्राप्त होने वाली शिकायतों का तुरन्त समयबद्ध निस्तारण सुनिश्चित कराया जाये। प्रबन्ध निदेशक ने निर्देश दिये कि अधिकारी, उपभोक्ताओं की समस्याओं को धैर्य पूर्वकं सुनें और उनका तत्काल निस्तारण सुनिश्चित करें। उन्होनें कहा कि अधिकारी उपभोक्ताओं के साथ अच्छे आचरण का परिचय दें। प्रबन्ध निदेशक ने कहा कि डिस्काम मे अच्छे अधिकारियों और कर्मचारियों की टीम कार्यरत है, इस भीषण गर्मी में अधिकारी और कर्मचारी युद्ध स्तर पर रात-दिन कार्य कर, उपभोक्ताओं को बेहतर विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करें।

व्हाट्सएप पर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *