Breaking News

आवश्यकता है “बेखौफ खबर” हिन्दी वेब न्यूज़ चैनल को रिपोटर्स और विज्ञापन प्रतिनिधियों की इच्छुक व्यक्ति जुड़ने के लिए सम्पर्क करे –Email : [email protected] , [email protected] whatsapp : 9451304748 * निःशुल्क ज्वाइनिंग शुरू * १- आपको मिलेगा खबरों को तुरंत लाइव करने के लिए user id /password * २- आपकी बेस्ट रिपोर्ट पर मिलेगी प्रोत्साहन धनराशि * ३- आपकी रिपोर्ट पर दर्शक हिट्स के अनुसार भी मिलेगी प्रोत्साहन धनराशि * ४- आपकी रिपोर्ट पर होगा आपका फोटो और नाम *५- विज्ञापन पर मिलेगा 50 प्रतिशत प्रोत्साहन धनराशि *जल्द ही आपकी टेलीविजन स्क्रीन पर होंगी हमारी टीम की “स्पेशल रिपोर्ट”

Saturday, July 13, 2024 5:31:30 PM

वीडियो देखें

वरिष्ठ साहित्यकार सांखला नागौर के डेह में सम्मानित

वरिष्ठ साहित्यकार सांखला नागौर के डेह में सम्मानित

राजस्थानी काव्य कृति कंद मूळ फळ के लिए मिला वैद्यराज बंशीधर पारीक स्मृति पुरस्कार

कोटा। नागौर के डेह में आयोजित साहित्यकार सम्मान समारोह में नेम प्रकाशन की ओर से 29 साहित्यकारों को उनकी श्रेष्ठ राजस्थानी कृतियों के लिए पुरस्कृत किया गया। सम्मानित होने वालों में जिले के टांकरवाड़ा निवासी वरिष्ठ साहित्यकार सीएल सांखला भी शामिल रहे।

जानकारी के अनुसार वरिष्ठ साहित्यकार सीएल सांखला को उनकी राजस्थानी काव्य कृति कंद मूळ फळ के लिए वैद्यराज बंशीधर पारीक स्मृति पुरस्कार 2024 प्रदान किया गया। समारोह में उन्हें साफा, शॉल, श्रीफल, माला, प्रशस्ति पत्र एवं नकद राशि प्रदान की गई।

आयोजन महासचिव पवन पहाड़िया एवं अध्यक्ष लक्ष्मण दान कविया के अनुसार समारोह की मुख्य अतिथि मंजू बाघमार (राजस्थान सरकार) थीं। विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ साहित्यकार जहूर खां मेहर थे। अध्यक्षता एचडी कूडी (पुलिस सेवा विमर्श, राजस्थान सरकार) थे। समारोह का सफल संचालन प्रसिद्ध साहित्यकार गजादान चारण ‘शक्तिसुत’ ने किया

उन्होंने बताया कि राजस्थानी भाषा एवं साहित्य को प्रोत्साहन देने के लिए यह समारोह प्रति वर्ष आयोजित किया जाता है। पिछले वर्ष हाड़ौती संभाग से जयसिंह आशावत एवं कवि देवकी दर्पण को सम्मानित किया गया था।

 

सांखला को मिल चुके हैं कई सम्मान

 

सांखला को केन्द्रीय साहित्य अकादमी नई दिल्ली का बाल साहित्य पुरस्कार 2018, राजस्थान साहित्य अकादमी का विशिष्ट साहित्यकार सम्मान 2022, अनंत साहित्य समिति अंता का श्री गिरधारी लाल मालव स्मृति सम्मान 2020, कबीर पारख संस्थान की ओर से कबीर रत्न सम्मान 2023 सहित कई सम्मान प्राप्त हो चुके हैं।

व्हाट्सएप पर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *